Used Car Details

Maruti Baleno

Views: 67

Car Description

Model - 2018 Model

Kilometres - 54,000

No. of Owner(s) - 1st Owner 

Fuel Type - Petrol

Transmission - Manual

Car Registration - Delhi

Car Available - Dhemaji

Car Colour - Red

Insurance Valid - 2021

Car Loan Facility - Available

All Documentation - Available

Negotiable Price - 5,70,000







27


Nov

Maruti Eeco

Model - 2014 model
Kilometres - 55,000
No. of Owner(s) - 1st Owner 
Fuel Type - Petrol

27


Nov

Mahindra Scorpio

Model - 2012 model
Kilometres - 55,000
No. of Owner(s) - 1st Owner 
Fuel Type - Diesel

27


Nov

Renault Duster

Model - 2013 model
Kilometres - 72,000
No. of Owner(s) - 1st Owner 
Fuel Type - Diesel

27


Nov

Hyundai Creta

Model - 2016 model
Kilometres - 23,000
No. of Owner(s) - 1st Owner 
Fuel Type - Diesel

27


Nov

Maruti Alto

Model - 2009 model
Kilometres - 50,000
No. of Owner(s) - 1st Owner 
Fuel Type - Petrol

27


Nov

Maruti Zen Estilo

Model - 2011 model
Kilometres - 50,000
No. of Owner(s) - 1st Owner 
Fuel Type - Petrol

27


Nov

Maruti Ertiga

Model - 2013 model
Kilometres - 78,000
No. of Owner(s) - 1st Owner 
Fuel Type - Diesel

27


Nov

Honda Jazz

Model - 2009 model
Kilometres - 68,000
No. of Owner(s) - 1st Owner 
Fuel Type - Petrol




27


Nov

Maruti Brezza

Model - 2016 model
Kilometres - 45,000
No. of Owner(s) - 1st Owner 
Fuel Type - Diesel

27


Nov

Maruti Eeco

Model - 2011 model
Kilometres - 70,000
No. of Owner(s) - 1st Owner 
Fuel Type - Petrol

27


Nov

Maruti Wagonr

Model - 2009 model
Kilometres - 80,000
No. of Owner(s) - 2nd Owner 
Fuel Type - Petrol

27


Nov

Mahindra Xuv500

Model - 2014 model
Kilometres - 55,000
No. of Owner(s) - 1st Owner 
Fuel Type - Diesel

  सेकेंड हैंड कार खरीदते वक्त इन बातों का जरूर ध्यान दे:-

  • चेक करे गाड़ी पर कही दुबारा रंग तो नहीं हुआ है |
  • गाड़ी के टायर जरूर जांच ले, 2 या 3 साल चल सकते है या नहीं ?
  • गाड़ी में बैट्री जरूर जांच ले, कही कार्बन तो जमा नहीं है, अगर ऐसा है तो, गाड़ी स्टार्ट होने में परेशानी पैदा कर सकती है पानी के स्तर का भी निरीक्षण करें |
  • गाड़ी पर कही डेंट तो नहीं हुआ है ये जरूर जांच ले |
  • गाड़ी पर कही कोई स्क्रैच तो नहीं है गाड़ी को चारो तरफ से जांच ले |
  • गाड़ी के सीट कवर जरूर जांच ले, कही फटे न हो |
  • गाड़ी कितने किलोमीटर चली है इस पर जरूर ध्यान दे |
  • गाड़ी के सभी उपकरण और बटन चला कर देखे. एसी, हीटर के अलावा म्यूजिक सिस्टम, ऑक्स केबल और सिग्रेट लाइट भी टेस्ट करें |
  • सेकंड हैंड कार खरीदते समय गाड़ी के बीमा की स्थिति जरूर चेक करें. साथ ही देखें कि उसके खत्म होने में कितना समय बाकी हैूर लें.
  • गाड़ी खरीदते समय हालिया पॉल्यूशन सर्टिफिकेट जरूर लें|
  • रेजिस्ट्रेशन बुक: इसमें गाड़ी का नंबर, चेसिस नंबर, इंजन नंबर भी होता है. यदि गाड़ी का एक्सिडेंट होता है, तो उसे दूसरा चेसिस नंबर दिया जाता है. इसलिए आरसी और गाड़ी, दोनों में इसका मिलान करें |
  • टेस्ट ड्राइव कम से कम 4 से 5 किलोमीटर की लें. इसके अलावा क्लच व ब्रेक की स्थिति भी देखें |

इस कार को खरीदने के लिए यह फॉर्म भरे